होनहार छात्रों को हर वर्ष छात्रवृत्ति देकर करेंगे प्रोत्साहित

0
14

शिवाजी इंटर कॉलेज बरगदवा के पूर्व छात्र रहे इंजीनियर ने पेश की एक अलग नजीर

सिद्धार्थनगर ब्यूरो चीफ विजय पाल चतुर्वेदी

कुछ लोग बड़े पदों पर पहुंच जाने के बाद अपने सगे संबंधियों और यार दोस्तों को भूल जाते हैl लेकिन एक पूर्व छात्र जो अब कंप्यूटर इंजीनियर के पद तक पहुंच चुका है उसे अपने विद्यालय का लगाव और गुरुजनों की दी शिक्षा उसके मन मस्तिष्क में तरोताजा हैl उस होनहार पूर्व छात्र का नाम अमरेश प्रताप सिंह है और वह जनपद के डुमरियागंज तहसील क्षेत्र के कमरिया खुर्द निवासी हैl
तहसील क्षेत्र के बरगदवा स्थित शिवाजी इंटर कॉलेज के पूर्व छात्र रहे इंजीनियर अमरेश बहादुर सिंह ने शुक्रवार को विद्यालय पहुंचकर कॉलेज के दो टॉपर छात्रों को अजीवन छात्रवृत्ति देने का ऐलान किया हैl

सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज तहसील क्षेत्र के ग्राम कमहरिया निवासी अमरीश बहादुर सिंह शिवाजी इंटर कॉलेज से अपनी प्रारंभिक शिक्षा ग्रहण करते हुए जूनियर हाई स्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद हाईस्कूल इंटर व उच्च शिक्षा हासिल कर दिल्ली नोएडा में कंप्यूटर इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैl वे अक्सर विदेश भी आते जाते रहते हैंl अपने प्रारंभिक विद्यालय से अपने लगाव के चलते विद्यालय के हर वर्ष हाईस्कूल व इंटर के एक एक टॉपर छात्रों को उत्साहवर्धन करने के लिए आजीवन छात्रवृत्ति देते रहने की घोषणा की हैl इंजीनियर अमरेश प्रताप सिंह ने बताया कि शिवाजी इंटर कॉलेज बरगदवा से उन्हें ककहरा सीखने का मौका मिला उस समय इस पिछड़े क्षेत्र में कोई विद्यालय नहीं था शिवाजी इंटर कॉलेज के प्रबंधक रामराज सिंह के कुशल देखरेख में उस समय यह विद्यालय शिशु से जूनियर हाई स्कूल की कक्षा तक संचालित थाl यहां पर हमने पांचवी तक की शिक्षा ग्रहण की प्रारंभिक शिक्षा के दौरान गुरुजनों ने जो अनुशासन और शिष्टाचार की शिक्षा दी वह आज भी हमारे मन मस्तिष्क में तरोताजा है lहमारी सफलता के लिए विद्यालय के प्रबंधक स्वर्गीय रामराज सिंह काका व विद्यालय स्टाफ के लोगों का विशेष योगदान रहा हैl जिसे हम जीवन भर नहीं भूल सकतेl हाई स्कूल व इंटरमीडिएट में सर्वाधिक अंक पाने वाले एक एक छात्रों को छात्रवृत्ति देकर उन्हें आगे बढ़ने का अवसर प्रदान किया जाएगाl
अमरेश प्रताप सिंह के इस निर्णय की राम अशीष पाठक,के पी सिंह बब्बू,रामकेवल यादव,सूर्य प्रकाश सिंह. जुबेर. ओम प्रकाश आदि ने प्रशंसा करते हुए सामर्थ्य और सफल लोगों से होनहार छात्रों की हौसला अफजाई के लिए इसी तरह का कार्य करने की अपेक्षा की हैl