अब तकअभी तकबाराबंकी

हर बच्चे की अपनी खुद की पहचान होती है, चाहे वह किसी भी परिस्थिति में रह रहा हो, हमारा प्रयास है कि बच्चों को उनकी पहचान दिलाकर उसे चाइल्ड चैम्पियन बनाना है – अमृता शर्मा

स्टेट हेड शमीम की रिपोर्ट

बाराबंकी। हर बच्चे की अपनी खुद की पहचान होती है, चाहे वह किसी भी परिस्थिति में रह रहा हो, हमारा प्रयास है कि बच्चों को उनकी पहचान दिलाकर उसे चाइल्ड चैम्पियन बनाना है उक्त उद्गार बुधवार को विकास खण्ड
बंकी की ग्राम पंचायत पिपराथा में चाइल्ड लाइन 1098 की काउसंलर अमृता शर्मा ने चाइल्ड लाइन द्वारा चाइल्ड चैम्पियन खोज के दौरान व्यक्त की।
काउंसलर अमृता ने कहा कि जैसे कोई भी तालाब, नदी में डूब रहा हो ऐसी विषम परिस्थितियों में कोई बच्चा डूब रहे व्यक्ति को बचाने के लिये चिल्ला-चिल्लाकर भीड़ इकट्ठा कर उसकी मुसीबत से बाहर निकाल दे तो वह बच्चा
चाइल्ड लाइन का चाइल्ड चैम्पियन है। किसी बुजुर्ग व अंधे व असहाय लोगों को सड़क पार कराये जैसे बच्चों द्वारा किये गये सराहीय कार्य हमारे लिये
चाइल्ड चैम्पियन है। ऐसे बच्चें चिन्हित कर हमें बतायें। चाइल्ड लाइन ऐसे बच्चों का हौसला अफजाई करेगी। वहीं चाइल्ड लाइन सदस्य मनीष सिंह में
मुसीबत में फंसे बच्चों की मद्द के लिये चाइल्ड लाइन 1098 पर मद्द लेने के लिये प्रेरित किया, तथा प्रदेश सरकारी द्वारा जारी कन्या सुमंगला योजना, स्पांसरशिप सहित विभिन्न योजनाओं के बारे में जागरुक किया व चाइल्ड लाइन सदस्य अनिल यादव ने टोल फ्री नम्बर 101, 102, 108, 112, 181,
1090, 1098 के द्वारा जारी सेवाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर आंगन बाड़ी कार्यकत्री कमलेश सिंह सहित कई बालक,बालिकाएं सहित महिलाएं मौजूद रही।

Related Articles

Back to top button