Advertisement
भारतसंचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय

सरलीकृत प्रमाणीकरण योजना के तहत 37 और उत्पाद लाए गए

प्रमाणीकरण के लिए लगने वाले समय को आठ सप्‍ताह से घटाकर दो सप्ताह कर दिया गया है

मूल्यांकन शुल्क को पूरी तरह माफ कर दिया गया है

रिपोर्ट:-शमीम 

दूरसंचार विभाग (डीओटी) की तकनीकी शाखा दूरसंचार इंजीनियरिंग केंद्र (टीईसी) द्वारा 01 जनवरी 2024 से 37 और उत्पादों को सरलीकृत प्रमाणन योजना (एससीएस) के तहत लाया गया है। इससे प्रमाणीकरण के लिए लगने वाला समय आठ सप्ताह से घटकर दो सप्ताह हो जाएगा और कारोबार को आसान बनाने में प्रोत्‍साहन मिलेगा। इन उत्पादों में मीडिया गेटवे, आईपी सुरक्षा उपकरण, आईपी टर्मिनल, ऑप्टिकल फाइबर या केबल, ट्रांसमिशन टर्मिनल उपकरण आदि शामिल हैं। एससीएस के तहत अब कुल उत्पाद 12 से बढ़कर 49 हो गए हैं।

इसके अलावा, 01 जनवरी 2024 से जीसीएस और एससीएस श्रेणी के निरपेक्ष एमटीसीटी-ई के तहत प्रस्तुत आवेदनों के आधार पर आवश्‍यक जरूरत (ईआर) के लिए टीईसी द्वारा केवल प्रशासनिक शुल्क लिया जाएगा।

मूल्यांकन शुल्क को पूरी तरह माफ कर दिया गया है। यह मूल उपकरण निर्माता (ओईएम) या आवेदकों के लिए एक बड़ी राहत है क्योंकि इससे आवेदन शुल्क में 80 प्रतिशत से अधिक की कमी आएगी, जिससे अनुपालन भार और कम हो जाता है।

विज्ञापन

वर्तमान में, 60 दूरसंचार और नेटवर्किंग उत्पाद हैं जिन्हें एमटीसीटीई शासन के तहत अधिसूचित किया गया है।

विज्ञापन 2

विज्ञापन 3

विज्ञापन 4

विज्ञापन 5
advertisement

Related Articles

Back to top button
error: Sorry !!