बाराबंकी

सरयू नदी का जलस्तर कम होने से कटान हुई तेज

सरयू नदी का जलस्तर कम होने से कटान हुई तेज

कोटवा धाम बाराबंकी

सरयू नदी में आई बाढ़ के पश्चात नदी का जलस्तर गिरने से तलहटी में स्थित 3 गांव में कटान अत्यंत तेज हो गई है लोगों के आशियाने व कृषि की उपजाऊ भूमि कट कट करके नदी में समाहित हो रही है जिससे तराई में निवास करने वाले ग्रामीणों में हड़कंप मचा हुआ है ।

सरयू नदी का जलस्तर कम होने से भौरी कोल गोबरहा तिलवारी जो बाढ़ से पूरी तरह क्षतिग्रस्त होकर बरबादी के मुहाने पर पहुच चुके हैं यहां तक कि किसानों के खेत कट कर नदी में समाहित होते जा रहे हैं कटान रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है जिससे तराई क्षेत्र के लोगों में आक्रोश पैदा हो रहा है किसानों का आरोप है कि कई बार अधिकारियों को सूचित किया गया है लेकिन ध्यान नहीं दे पा रहे हैं जिससे खेत और घर नदी में धराशाई हो रहे हैं ।

गांव के सुंदरलाल पराधीन परमेश्वर आदि लोगों का कहना है कि नदी का जलस्तर गिरने के पश्चात अब कटान और अधिक तेज हो गई है जिससे लोगों के आशियाने कट कर करके नदी की धारा में समाहित होते चले जा रहे हैं वहीं कृषि योग्य भूमि कटान की भेंट चढ़ चुकी है तिलवारी के जगत राम ममता सिंह सिया राम आदि के घर नदी के कटान पर चल रहे हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button