रिपोर्ट मण्डल ब्यूरो शमीम

फतेहपुर, बाराबंकी, 01 फरवरी सब पढ़े सब बढ़े नई पहल परियोजना एक्शन एड यूनिसेफ के द्वारा विकासखंड फतेहपुर के गांव सलेमपुर में एक बैठक का आयोजन पंचायत भवन में किया गया। बैठक में पंचायत सदस्य, विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्य व अभिभावकों ने प्रतिभाग किया। बैठक का मुख्य उद्देश्य परिषदीय विद्यालयों में बच्चों की उपस्थिति को बढ़ाने हेतु किया गया। बैठक में सहायक जिला समन्वयक सतीश चंद्र वर्मा ने विद्यालय प्रबंधन समिति के गठन व उनके कर्तव्य दायित्वों पर चर्चा करते हुए कहा कि विद्यालय प्रबंधन समिति के गठन में कुल 15 सदस्य होंगे जिसमें से 11 सदस्य बच्चों के माता-पिता ही होंगे 15 सदस्यों में से एक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव तथा अन्य सदस्य होंगे। इनमें चार अन्य सदस्यों में ए. एन. एम., लेखपाल, प्रधानाचार्य या वरिष्ठ अध्यापक सचिव होगा तथा एक सदस्य पंचायत की तरफ से शामिल किया जाएगा। बैठक में नामांकन, उपस्थिति, ड्रॉप आउट बच्चे, स्कूल की साज-सज्जा, रंगाई पुताई, किताबें, यूनिफॉर्म, मिड डे मील, व बालक-बालिकाओं के लिये शौचालय की व्यवस्था, पठन-पाठन, वार्षिक प्रतियोगिता, सामुदायिक सहयोग जैसे महत्वपूर्ण बिंदु पर बैठक में बात करना व विद्यालय विकास योजना तैयार करना शामिल है। सतीश चंद्र वर्मा ने चर्चा करते हुए कहा कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अनुसार 06 वर्ष से 14 वर्ष के बालक-बालिकाओं को निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा पाने का मौलिक अधिकार है, इसके अंतर्गत बच्चों को निशुल्क किताबें, बैग, यूनिफॉर्म, मध्यान्ह भोजन पाने के हकदार होंगे बच्चों को स्कूल में शारीरिक या मानसिक रूप से प्रताड़ित नहीं किया जा सकता है। कोई भी सरकारी स्कूल बच्चे को प्रवेश देने से मना नहीं कर सकता है, बैठक में बाल श्रम, बाल-विवाह के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा की गई, बैठक में शिक्षा प्रेरक रामविलास शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here