हमीरपुर

मुख्य विकास अधिकारी ने लंबे समय से गायब आंगनवाड़ी कार्यकत्रियो की सेवा समाप्त करने के दिए निर्देश

स्टेट हेड शमीम की रिपोर्ट

हमीरपुर’- जिला पोषण समिति एवं कन्वजेंर्स विभागों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य ने कहा कि लंबे समय से गायब आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों की सेवा समाप्त करने की कार्रवाई की जाए। ड्राई राशन का समयबद्ध ढंग से वितरण सुनिश्चित किया जाए । कहा कि कुपोषित बच्चों को सुपोषित श्रेणी में लाने हेतु प्रभावी प्रयास किए जाएं।कहा कि सीडीपीओ द्वारा कुपोषित बच्चो का चिन्हाकन गंभीरतापूर्वक कर लिया जाए । सभी कुपोषित बच्चो का बेबी वजन मशीन से ही वजन किया जाय। कहा कि अभियान चलाकर सैमध मैम बच्चो ( कुपोषित एवं अतिकुपोषित) का चिन्हाकन किया जाए। आरोग्य स्वास्थ्य मेले में पोषण एवं स्वास्थ्य के संबंध में आईसीडीएस विभाग द्वारा लोगों को जागरूक किया जाए। स्वास्थ्य मेले में भी कुपोषित बच्चों एवं महिलाओं का चिन्हाकन किया जाए। उन्होंने कहा कि आरोग्य स्वास्थ्य मेले में आयुषविभाग,स्वास्थ्य विभाग, आईसीडीएस विभाग द्वारा सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि कुपोषित बच्चों को एनआरसी में भर्ती कराकर उनका इलाज कराया जाए, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। सभी आंगनवाड़ी केंद्रों को
नियमित रूप से खोला जाए तथा आंगनवाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया जाए तथा प्रत्येक एक्टिविटी को दैनिक डायरी में अंकित किया जाए । सभी कुपोषित बच्चो परिवारों को सहभागिता योजना के अंतर्गत दुधारू गाय उपलब्ध कराई जाए। सहभागिता
योजना के अंतर्गत लोगो को उपलब्ध कराए गए गौवंशों का हर माह सत्यापन कर प्रत्येक माह की 10 तारीख तक भुगतान कर दिया जाय। सभी आंगनवाड़ी केंद्रों में पोषण वाटिका लगाई जाए तथा पोषण वाटिका में मौसमी सब्जियां तैयार की जाय। कुपोषित बच्चो परिवारों को पोषण वाटिका तैयार करने हेतु प्रोत्साहित किया
जाय!बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरजीत सिंह , उपायुक्त स्वतः रोजगार कमलेश कुमार , सीवीओ तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Related Articles

Back to top button