बाराबंकी

बेमौसम बरसात से किसानों की रीड की,टूटी हड्डी

कोटवा धाम बाराबंकी
आज तेज हवाओं के साथ जमके हुई बारिश जिसमें किसानों की आलू मटर सरसों गेहूं मसूर अन्य फसलों की बर्बाद हो गई है इसे कहते है कुदरत का कहर आज की बारिश जैसे जून जुलाई-अगस्त में भी नहीं हुई होगी अब बताओ इसमें किसानों की रीड टूटती जा रही है यहां तक की बाराबंकी का किसान आज से 3 वर्ष पहले तक अपनी रोजी रोटी के लिए तड़प रहा था जिसमें आज अपनी मेहनत मजदूरी करके तैयार फसल नष्ट हो रही है यह बेमौसम बारिश का नतीजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है आपको बताते चलें दरियाबाद कोटवा धाम सहित सैलखानपुर महमूदाबाद कोटवा सड़क सफदरगंज इन जगह इन आस्था तेज हवाओं के साथ बारिश भी अपना रंग लाई अब किसान की आगे की फसलें,खाली जा रही कैसे अपने बच्चों की पढ़ाई कपड़ा परवरिश का निकालेंगे खर्चा

Related Articles

Back to top button