जनपद न्यायाधीश श्रीमती नीरजा सिंह के निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बाराबंकी द्वारा दिनांक-19.12.2019 को द लैप्रोसी मिशन ट्रस्ट हास्पिटल, जनपद बाराबंकी के सहयोग से ग्राम सेवंगी, तहसील फतेहपुर, बाराबंकी में लैप्रोसी एवं संवैधानिक अधिकार विषय पर विधिक साक्षरता एवं जागरूकता का आयोजन किया गया। शिविर में समरसता दिवस के नोडल अधिकारी विपिन कुमार सिंह, रिसोर्स पर्सन श्रीमती कुरैशा खातून, लेप्रोशी मिशन से नौशाद हसन अंसारी, महेश सिंह, अफराज के अतिरिक्त मोहित वर्मा, स्थानीय ग्रामवासियों के अतिरिक्त अन्य लोग भी उपस्थित रहे। समरसरता दिवस के नोडल अधिकारी विपिन कुमार सिंह द्वारा महिलाओं के अधिकार विषय पर बोलते हुए कहा गया कि समाज में महिलाओं को संवैधानिक रूप से पुरूषों के बराबर अधिकार प्राप्त हैं। वे अपने आप को पुरूषों से कतई कम न समझे। हमारी न्याय व्यवस्था ने महिलाओं को ऐसे कई कानून दिये हैं जिससे वे अपने आप को समाज में पुरूषों के बराबर के अधिकार दिलाती हैं। वे अपने आप को मजबूत करें और दूसरी महिलाओं को भी बतायें कि अगर उनपर कोई अत्याचार करता है तो वे कानून से न्याय की गुहार लगा सकती हैं और अपने विधिक अधिकारों को प्राप्त कर सकती हैं। बालकों के लिए निःशुल्क व अनिवार्य शिक्षा के विषय में बताते हुए संविधान की प्रस्तावना का शपथ सभी को दिलाया गया। पैनल अधिवक्ता/रिसोर्स पर्सन श्रीमती कुरैशा खातून द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं शीर्षक पर बोलते हुए कहा गया कि लैगिंक एवं सामाजिक असमानताओं को दूर करने के लिए वैयक्तिक पहल करने का समय आ गया है। समाज में लैगिंक भेद के आधार पर उत्पन्न होने वाली बुराईयों जैसे महिला उत्पीड़न, दहेज उत्पीड़न, यौन शोषण, बाल विवाह, कन्या भू्रण हत्या का सुधार करने के लिए तन्त्र एवं व्यवस्था को दोष दिया जाना उचित नहीं है। हम सभी की गुरूतर जिम्मेदारी है कि इन सुधारों के लिए वैयक्तिक और सामाजिक पहल करें जिससे भेदभावपूर्ण एवं उत्पीड़नात्मक व्यवस्था का अंत हो सके और नई पीढ़ी में उच्च श्रेणी के नैतिक मूल्यों की स्थापना हो सके आधुनिक समाज में बेटियों के साथ भेदभावपूर्ण माहौल विद्यमान है। इस अवसर पर द लैप्रोसी मिशन ट्रस्ट बाराबंकी महेश सिंह द्वारा लैप्रोसी विषय पर विस्तार से जानकारियां दी गई। उनके द्वारा द लैप्रोसी मिशन ट्रस्ट के एैतिहासिक पृष्ठ भूमि की जानकारियां देते हुए कुष्ठ रोग की पहचान, रोकथाम, इलाज एवं कुष्ठ रोगियों के साथ भेेद भाव न करने की अपील की। इसके अतिरिक्त लैप्रोसी विषय पर एवं लैंगिक समानता पर नुक्कड़ नाटक का भी प्रदर्शन किया गया। मो0 अफराज, लैप्रोसी मिशन ट्रस्ट द्वारा संचालन किया गया। संस्था की ओर से गीता एवं अन्य कर्मचारीगण भी उपस्थित रहें। विधिक साक्षरता कार्यक्रम में दिये गये विचारों से स्थानीय लोग लाभान्वित हुए और उनके द्वारा पुनः ऐसे कार्यक्रमों को आयोजित करने की अपेक्षा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here