पत्रकार कुलदीप सिंह पर हमला लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर है प्रहार – सत्येन्द्र उपाध्याय

0
6

पत्रकार कुलदीप सिंह पर हमला लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर है प्रहार – सत्येन्द्र उपाध्याय विगत छब्बीस दिसंबर को पत्रकार कुलदीप सिंह एवं उनके भाई पर दबंगों ने किया था जानलेवा हमला अखिल राष्ट्रीय पत्रकार संघ ने डीएम सिद्धार्थनगर व एसडीएम बाँसी को ज्ञापन देकर पत्रकार कुलदीप सिंह को सुरक्षा मुहैया कराने व दोषियों पर कड़ी कार्यवाई की मांग की 

 

 

सिद्धार्थनगर-विजय पाल चतुर्वेदी

 

 

प्रदेश में आए दिन पत्रकारों पर हमले हो रहे वह किसी एक पत्रकार पर नही अपितु लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर हमला है । उपरोक्त बातें अखिल राष्ट्रीय पत्रकार संघ के मण्डल अध्यक्ष व वरिष्ठ पत्रकार सत्येन्द्र उपाध्याय ने एक प्रेस वार्ता के दौरान कही । अखिल राष्ट्रीय पत्रकार संघ के मण्डल अध्यक्ष सत्येन्द्र उपाध्याय ने कहा कि एक तरफ प्रदेश की योगी सरकार पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर तरह – तरह के बयान दे रही परन्तु वास्तविकता में सरकार का यह दावा पूर्ण रूप से गलत सिद्ध हो रहा चाहे वह शाहजहांपुर में सोशल मीडिया पत्रकार जगेंद्र सिंह को जिंदा जलाकर मारने का मामला हो या कुशीनगर जनपद के पत्रकार राधेश्याम शर्मा की गला रेतकर हत्या अथवा पीलीभीत जिले के पूरनपुर क्षेत्र के स्थानीय टीवी चैनल के रिपोर्टर हैदर को जान से मारने की कोशिश के बाद भी दोषियों को सजा देने के बजाय स्थानीय प्रशासन द्वारा जिस तरह बचाने का कार्य किया जा रहा वह शर्मनाक है । वरिष्ठ पत्रकार सत्येन्द्र उपाध्याय ने कहा कि यह चुनिंदा नाम तो एकमात्र बानगी हैं सच्चाई तो यह है कि विगत दो वर्षों में दर्जनों पत्रकार साथियों पर इस तरह के हमले होते रहे हैं परन्तु सरकार द्वारा पत्रकारों की सुरक्षा सम्बंधित बयान केवल जुमलेबाजी सिद्ध हो रहे इसलिए अब समय आ गया है कि जितने भी पत्रकार संगठन हैं यदि वास्तव में पत्रकार हितों के लिए गम्भीर हैं तो सभी को एक मंच पर आकर पत्रकार एकता को दिखाते हुए दोषियों को कड़ी सजा दिलाने हेतु शासन – प्रशासन पर दबाव बनाना होगा ताकि भविष्य में किसी भी पत्रकार बन्धु को इस तरह के हमले का शिकार ना होना पड़े ।ज्ञात हो कि विगत छब्बीस दिसंबर को सिद्धार्थनगर जनपद के बाँसी तहसील क्षेत्र के मरवटिया निवासी पत्रकार कुलदीप सिंह एवं उनके भाई पर जानलेवा हमले में कुलदीप सिंह व उनके भाई को गम्भीर रूप घायल हो गए एवं उनके बड़े भाई का हाथ भी फ्रैक्चर हो गया परन्तु स्थानीय पुलिस दोषियों पर कार्यवाई करने की बजाय पीड़ित पत्रकार के भाई को ही थाने पर बिठा लिया जिससे दोषियों के हौंसले और भी बुलन्द हो गए और पीड़ित पत्रकार के घर के सामने अवैध असलहे से फायरिंग करते हुए धमकी देते हुए घर की महिलाओं को अश्लील व अमर्यादित गालियां भी दी । वरिष्ठ पत्रकार सत्येन्द्र उपाध्याय ने पत्रकार कुलदीप सिंह पर हुए जानलेवा हमले की कड़ी भर्त्सना करते हुए कहा कि अखिल राष्ट्रीय पत्रकार मंच पत्रकार कुलदीप सिंह एवं उनके परिजनों के साथ सदैव खड़ा है और किसी भी कीमत पर पत्रकारों के विरुद्ध अन्याय व शोषण को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा तथा जब तक पीड़ित पत्रकार को न्याय नहीं मिलेगा तब तक अखिल राष्ट्रीय पत्रकार संघ आवाज उठाता रहेगा एवं स्थानीय पुलिस प्रशासन द्वारा यदि दोषियों पर कड़ी कार्यवाई नही की गई तो प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदेश स्तर पर आन्दोलन करने को बाध्य होगा ।