अब तकअभी तकसिद्धार्थनगर

निजी अस्पताल में डॉक्टर इम्तियाज ने लगभग 2 घंटे के लंबे ऑपरेशन के बाद 12 वर्षीय बच्चे के पेट से बाल का गोला निकालकर डुमरियागंज में शल्य चिकित्सा के क्षेत्र में रचा इतिहास

डुमरियागंज में चिकित्सा के क्षेत्र में डॉक्टर ने रचा इतिहास
12 वर्ष के मरीज के पेट से निकला 1किलो 500 ग्राम का बालों का गोला।
मरीज़ की डॉक्टर ने अपनी सूझ बूझ से बचाई जान।
डुमरियागंज। डुमरियागंज नगर पंचायत के बाहरी रोड स्थित निजी अस्पताल में क्षेत्र के सर्जन डॉक्टर इम्तियाज ने 12 वर्षीय मरीज के पेट से ऑपरेशन कर बाल का गोला निकालकर एक अद्भुत कार्य किया। लगभग 2 घंटे के लंबे ऑपरेशन के बाद निकले 1 किलो 500 ग्राम के गोले को देखकर खुद डॉक्टर और उनकी टीम के लोग हैरान रह गए। सर्जरी के बाद मरीज और उसके परिजन बच्चे की एक नई जिंदगी पाकर काफी खुश हैं।
डुमरियागंज स्थित निजी अस्पताल में डॉक्टर इम्तियाज ने लगभग 2 घंटे के लंबे ऑपरेशन के बाद 12 वर्षीय बच्चे के पेट से बाल का गोला निकालकर डुमरियागंज में शल्य चिकित्सा के क्षेत्र इतिहास रचा है। ऑपरेशन के बाद प्रेस से बातचीत के दौरान डॉक्टर ने बताया कि मेरे बीते चिकित्सा के काल में इस तरह का ऑपरेशन पहली बार है ।यह एक अद्भुत अनुभव है। डुमरियागंज क्षेत्र में एक सीमित व्यवस्था में इस तरह का ऑपरेशन होना एक मुश्किल काम है। जिसे एक लंबे ऑपरेशन के बात किया जा सका ।उन्होंने कहा कि मरीज के परिजन पिछले 1 वर्ष से प्रदेश में बच्चे के पेट के दर्द को लेकर घूम रहे थे। साथ ही जगह-जगह जांच कराने के बाद पेट की स्थिति सामान बताई जाती थी
मरीज के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद मैंने और मेरी टीम ने सम्पूर्ण जांच कराने के बाद ऑपरेशन का निर्णय लिया ।जिसके फलस्वरूप पेट से बाल का गोला निकाला गया।जिसे शोध के लिए लखनऊ लैब में भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह रोग बच्चों में मनोवैज्ञानिक बीमारी के कारण होता है।जिससे बाल खाने की आदत आ जाती है। तब ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है ।ऑपरेशन के दौरान उनके साथ डॉक्टर निदा डॉक्टर लुकमान डॉक्टर इरफान आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button