अब तकअभी तकबाराबंकी

जनपद न्यायाधीश श्री राम अचल यादव के दिशा निर्देशों के अनुक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बाराबंकी द्वारा प्रधान न्यायाधीश पारिवारिक न्यायालय का होने वाले ई-लोक अदालत में निस्तारित कराये जाने के उद्देश्य से प्री-ट्रायल बैठक का किया गया गया आयोजन।

स्टेट हेड शमीम की रिपोर्ट

बाराबंकी । उ0प्र0राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मंशानुरूप माननीय जनपद न्यायाधीश श्री राम अचल यादव के दिशा निर्देशों के अनुक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बाराबंकी द्वारा प्रधान न्यायाधीश पारिवारिक न्यायालय एवं पारिवारिक न्यायालय प्रथम व द्वितीय न्यायालयों पर लम्बित वैवाहिक मामलों को दिनांक-01.11.2020 को आयोजित होने वाले ई-लोक अदालत में निस्तारित कराये जाने के उद्देश्य से आज दिनांक-21.10.2020 को प्री-ट्रायल बैठक का आयोजन किया गया गया।
बैठक की अध्यक्षता ई-लोक अदालत की नोडल अधिकारी एवं अपर प्रधान न्यायाधीश पारिवारिक न्यालाय प्रथम श्रीमती एकता वर्मा द्वारा किया गया। बैठक में प्रधान न्यायाधीश पारिवारिक न्यालाय द्वितीय श्रीमती शुभी गुप्ता व सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सुश्री स्वेता चन्द्रा शामिल हुई। बैठक में दिनांक-01.11.2020 को वैवाहिक मामलों के लिए एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर वादों के लिए आयोजित होने वाले ई-लोक अदालत के विषय में विस्तार से जानकारियां दी गई। इस अवसर पर वैवाहिक मामलों एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर वादों की पैरवी करने वाले अधिवक्तागण उपस्थित रहे। बैठक में कोविड-19 के दिशा निर्देशों का अनुपालन किया गया।

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा बताया गया कि दिनांक-01.11.2020 दिन रविवार को कोविड–19 वैश्विक महामारी से संबंधित माननीय उच्च न्यायालय के द्वारा जारी दिशा-निर्देशों तथा ई-लोक अदालत के आयोजन हेतु एस0ओ0पी0 का अनुपालन कराते हुए किया जाना है। उक्त ई-लोक अदालत में डंजतपउवदपंस ब्ंेमे ;पारिवारिक वादोंद्ध एवं डवजवत ।बबपकमदज ब्संपउ ब्ंेमे ;ड।ब्ज् ब्ंेमेद्ध का आपसी सुलह-समझौते के आधार पर अधिक से अधिक संख्या में निस्तारण किया जाना है। समस्त जनसाधारण को सूचित किया जाता है कि यदि उनका उक्त प्रकार का वाद सम्बन्धित न्यायालय में लम्बित है तो वे अपने वादों को आपसी सुलह-समझौते के आधार पर ई-लोक अदालत के आयोजन हेतु एस0ओ0पी0 का अनुपालन करकते हुए दिनांक-01.11.2020 दिन रविवार को ई-लोक अदालत में निस्तारित कराकर इस अवसर का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

ई-लोक अदालत की नोडल अधिकारी एवं अपर प्रधान न्यायाधीश पारिवारिक न्यालाय प्रथम श्रीमती एकता वर्मा द्वारा इस लोक अदालत के लिए अधिक से अधिक मामलों को चिन्हित कर उनके अधिकतम निस्तारण के लिए अधिवक्तागण को प्रेरित किया गया।

Related Articles

Back to top button