अब तकअभी तकबाराबंकी

जंग ए आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली ग्राम पंचायत कटका उपेक्षा का शिकार

सिरौलीगौसपुर बाराबंकी

देश की जंग ए आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली विकासखंड सिरौलीगौसपुर की ग्राम पंचायत कटका कई मायने में प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार हो रही है।

जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर रामनगर बदोसराय मार्ग के मुख्य मार्ग से ग्राम लोध पुरवा रोड से 2 किलोमीटर दक्षिण ग्राम पंचायत कटका स्थित है जहां के निवासियों ने 1914 व 1919 के प्रथम विश्व युद्ध में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाहन किया था जिसका विजय स्तंभ ग्राम पंचायत में इन्फेंट्री सोल्जर के रूप में आज भी मौजूद है जिसमें संगमरमर का एक पत्थर लगा हुआ है पत्थर में अंग्रेजी भाषा में फ्रॉम दिस विलेज 26 मैन वेंट टू द ग्रेट वार कटका 1914 व 19 19 लिखा हुआ है देश के स्वतंत्रता संग्राम में गांव के 26 लोग स्वतंत्रता सेनानी के रूप में गए थे वे सभी फौजी की वेशभूषा में जीवित अवस्था में वापस आ गए थे जिनकी विजय गाथा का यह स्तम्भ आज भी बखान कर रहा है ।इसके संबंध में ग्राम वासी मोहम्मद जहीर बताते हैं कि प्रथम विश्वयुद्ध में कटका से 26 ग्रामीण फौज में गए थे वापस आने पर अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन के तहत वे रेशमी रुमाल तहरीक से जुड़ गए थे परंतु बड़े दुख की बात है इतना सब कुछ होते हुए भी उनका नाम गजेटियर में नहीं दर्ज हो सका यह गांव कई मायने में प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार है ।

Related Articles

Back to top button