सिद्धार्थनगर

ग्रामीणों ने कोटेदार के ऊपर अंगूठा लगवा कर राशन न देने का लगाया आरोप

सिद्धार्थनगर-ब्यूरोचीफ (विजय पाल चतुर्वेदी)

विकास खण्ड भनवापुर के अन्तर्गत ग्राम पंचायत भरवठिया मुस्तहकम् में कोटेदार के द्वारा ग्रामीणों मे जून महीने मे ग्रामीणों से कोटेदार के द्वारा राशन कार्ड लाभार्थियों से अंगूठा लगवा लिया जिसके उपरांत राशन कार्ड लाभार्थी को राशन नहीं दिया जिसके उपरांत फिर जुलाई माह में राशन वितरण के लिए अगूंठा लगवाना प्रारंभ कर दिया जिसको लेकर ग्रामीणों ने कोटेदार के खिलाफ कोटेदार के यहाँ दुकान पर हल्लादंगा करने लगे जिसको लेकर ग्रामीणों का कहना है कि कोटेदार हर महीने हम गरीब परिवार के साथ ऐसा ही करता है वहीं एक तरफ सरकार इस कोरोना महामारी मे गरीबों को राशन देती है तो दूसरी तरफ कोटेदार के द्वारा राशन न बाटकर बिचौलियों के हाथ बेच लेता है आखिर उन गरीब परिवारों को राशन किस आधार पर मिलेगा आखिर माननीय प्रधानमंत्री जी के आदेशों की अवहेलना क्यों किया जा रहा है वहीं देश के प्रधानमंत्री जो गरीबों के हित के लिए तथा लाकडाउन को देखते हुए नवम्बर माह तक जो राशन वितरण करना था क्या गरीबों तक इसका लाभ मिल पायेगा जब इसी तरह से कोटेदारो कि मनमानी इसी तरह से बनी रहेंगी फिर गरीबों को राशन कौन दिलायेगा आखिर इस तरह से भ्रष्टाचार कब तक चलेगा प्रशासन ऐसे कोटेदारों के खिलाफ क्यों नहीं उठा रही ठोस कदम क्या वजह है कि गरीब लाभार्थी परिवारों को राशन नहीं दिया जा रहा फिर भी किसी भी अधिकारी की नजर नहीं पड़ती फिर सरकारी योजनाओं का क्या मतलब बन रहा है जब गरीब परिवार तक आते आते सिमट जाती है गरीबों के हक का राशन नहीं मिलता है फिर गरीब जनता अपनी गुहार किससे लगाने जाये जबकि ऐसा कई बार ग्रामीणों ने कोटेदार के खिलाफ आवाज उठाया लेकिन कोई भी अधिकारी उनके आवाज को सुनने नहीं आया उन गरीब लाभार्थियों को उनके हक का राशन नहीं मिला और न ही उन्हें कोई न्याय मिला सिर्फ विभागीय अधिकारियों के द्वारा आश्वासन ही मिला ऐसे कोटेदारों के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिये जब तक उच्च अधिकारियों के द्वारा ऐसे कोटेदार के खिलाफ गहनता पूर्वक जांच नहीं होगा तब गरीबों को न्याय नहीं मिलेगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button