किसान नेताओं को पुलिस ने किया घर पर नजर बन्द

0
17

असंद्रा बाराबंकी। किसानों का भारत बंद आह्वान को लेकर क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर दोपहर तक तो इसका असर दिखाई दिया दोपहर बाद लगभग सभी दुकानें खुल गई। इसके अलावा स्थानीय पुलिस प्रशासन ने क्षेत्रिय भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों और समाजवादी पार्टी, कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों को उनके घर में ही नजर बंद कर घर से नहीं निकलने दिया।
विकास खंड सिद्धौर क्षेत्र के कैसरगंज रसूलपुर नई सड़क असंद्रा उस्मानपुर लाखू पुर बीबीपुर आदि चौराहों पर भारत बंद का असर देखने को मिला। सुबह छुटपुट दुकाने खुली लेकिन सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। दोपहर बाद ज्यादातर दुकानदारों ने अपनी दुकानें खोली,भारतीय किसान यूनियन जिला महामंत्री हौसला प्रसाद ने हिम्मतपुर चौराहे पर अपने कार्यकर्ताओं के साथ शांतिपूर्ण बैठक की। भाकियू ब्लॉक अध्यक्ष रणविजय सिंह, जिला उपाध्यक्ष शान्ति भूषण सिंह एस आई दीपेंद्र मिश्रा महिला सिपाही ने सुबह 6 बजे ही घर पर नजर बन्द कर दिया था व , सुरेन्द्र सिंह,व किसान नेता रामबरन वर्मा को पुलिस ने उनके आवास पर ही नजरबंद कर लिया किसान नेता प्रभाकर तिवारी को असंद्रा पुलिस ने थाना में नजर बन्द किया था एवम् । पूर्व विधायक हैदरगढ़ राम मगन रावत को भी पुलिस ने उनके आवास पर नजर बंद कर दिया।तो वही कांग्रेस पार्टी के नेता हरिताश यादव भी पुलिस की नजरों से नहीं बच सके। वहीं प्रशासन की रवैया से नाराज भाकियू नेताओं ने राष्ट्रपति संबोधित संबोधित ज्ञापन थाना अध्यक्ष को सौंपा।इस मौके पर रामसरन रावत, कमलेश कुमार, बृजेश कुमार वर्मा, दरबारी लाल, हिन्द कुमार सहित भाकियू कार्यकर्ता मौजूद रहे।