अब तकअभी तककन्नौज

कलेक्ट्रेट परिसर में अनायास ही चेकों का वितरण शुरू कर दिया देखते ही देखते चेक लेने के लिए वहां भीड़ जमा हो गई। (जाने क्या है पूरा मामला)

रिपोर्ट – मोबीन मंसूरी

कन्नौज कलेक्ट्रेट परिसर में बुधवार की दोपहर उस समय हड़कंप मच गया जब गरीबों का मसीहा बनकर पहुंचे व्यापार मंडल के मंडल अध्यक्ष ने गरीब एवं कमजोर वर्ग के लोगों को राष्ट्रीय सम्मान निधि का हवाला देते हुए अनायास ही चेकों का वितरण शुरू कर दिया देखते ही देखते चेक लेने के लिए वहां भीड़ जमा हो गई इधर मामले की भनक लगते ही जिलाधिकारी के आदेश पर कोतवाली पुलिस समय लाइव पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और घटना की जांच पड़ताल की जिसके बाद पुलिस ने उक्त सिरफिरे व्यक्ति को हिरासत में लेते हुए कोतवाली पहुंचा दिया बताया जाता है चेक वितरण करने वाला तथाकथित नेता मानसिक रूप से बीमार है गौरतलब है बुधवार की दोपहर जनपद के दूरदराज क्षेत्रों से लोग अपनी फरियाद लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे थे इसी दौरान इंदरगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम किशन पुरवा निवासी मदन गोपाल जाटव पुत्र हरिदयाल जाटव गरीबों का मसीहा बनकर कलेक्ट्रेट पहुंच गए और खुद को व्यापार मंडल का मंडल अध्यक्ष बताते हुए आम लोगों को शासन के निर्देश पर आम लोगों को राष्ट्रीय सम्मान निधि वितरित करने एवं हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया जिसके बाद उक्त मदन गोपाल ने चेक बुक निकालते हुए प्रत्येक व्यक्ति को 33 हजार रुपए कीचक वितरित करना शुरू कर दिया अभी 18 लोगों को चेक वितरण हुआ था तभी उसने कहा की उक्त चेक से अभी आपको रुपया नहीं मिल पाएगा जब जिलाधिकारी कन्नौज खाते में पैसा भेजेंगे तब ही इस चक्र से पैसा मिलेगा जिला अधिकारी का नाम आते ही वहां मौजूद प्रशासनिक कर्मचारियों ने मामले की भनक जिलाधिकारी को दी जिसके बाद जिलाधिकारी ने कोतवाली पुलिस को मामले की जांच करने के लिए निर्देशित किया मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस एवं एलआईयू स्पेक्टर ने मदन गोपाल से पूछताछ की पूछताछ के दौरान मदन गोपाल कुछ सिरफिरा व्यक्ति मालूम हुआ जिसके बाद पुलिस ने इंदरगढ़ थाना पुलिस की मदद से उसके परिजनों एवं ग्रामीणों से जानकारी ली तब हकीकत सामने उजागर हुई की उक्त व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार है और वह आए दिन ऐसी हरकतें करता रहता है जिसके बाद पुलिस ने उसे चेतावनी देते हुए छोड़ दिया।

Related Articles

Back to top button
error: Sorry !!