अब तकअभी तकफर्रुखाबाद

ईद मिलादुन्नबी के मौके पर मुस्लिम जकात फाउंडेशन ने गरीब महिलाओं को रोजगार से जोड़ने के उद्देश्य से सिलाई मशीनों का किया वितरण

रिपोर्ट मोहम्मद इसरार

फ़र्रूख़ाबाद- पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्मदिन पूरे सादगी के साथ मनाया गया। जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार मनाया गया। और कोरोना महामारी को लेकर प्रशासन द्वारा जारी कि गई गाइडलाइन का पालन करते हुए लोगों ने अपने अपने घर तथा मस्जिदों में एवं महफ़िल कार्यक्रम आयोजन नहीं किया गया। उलेमाओं ने पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब के जीवनी के बारे में बताया और उनके नक्शे कदम पर चलने का आह्वान किया पैगंबर मोहम्मद हजरत साहब का जन्मदिन प्रत्येक वर्ष साल की तरह से नहीं मना सकें। हजरत मोहम्मद सल्लल्लाहो वाले वसल्लम की यौमे पैदाइश से इंसानियत का रास्ता देखने को मिला जिससे हमारे नबी ने इस्लाम के बताए हुए रास्ते पर चलने का तरीका बताया हमारे नबी ने कभी किसी का दिल नहीं दुखा या अल्लाह ने जो हुक्म दिया उसका आपने पालन किया आपके साथ साथ उसी रास्ते पर कौम को चलने की हिदायत दी और आप ने बताआ कि सबसे बड़ा नता सबसे इंसानियत का है।कोरोना महामारी ने सभी त्योहारों को खराब कर के रख दिया।मजहर मोहम्मद ने बताया की आज मुसलमानों के लिये सबसे अच्छा दिन होता है आज के दिन हर घर में मोहम्म्मद साहब का जन्म दिन मनाया जाता है सभी इंसानियत मिल कर आज के दिन को मनाते है। इन्ही के चलते हम लोगों को नामज मिला रहमत वाला नवी। कोरोना महामारी के कारण सादगी से मौहम्मद साहब का जन्म दिन मनाया जा गया है।

Related Articles

Back to top button