आवारा पशुओं के जी का जंजाल बने ब्लड वाले तार

0
4

कोटवाधाम बाराबंकी।आवारा घूमने वाले पशुओं के जी का जंजाल बन चुके हैं खेतों में लगे ब्लेंट वाले तार जिसकी जद में आने से आए दिन कोई न कोई मवेशी बुरी तरह से घायल हो जाता है ।इसी क्रम में विकासखंड दरियाबाद के अंतर्गत ग्राम पंचायत गंगौली के पास आज एक गाय खेतों में लगे ब्लेट वाले तारों की जद में उलझ कर के खून से लथपथ दिखाई दी उसे गांव के लोगों के द्वारा पकड़ लिया गया लोगों ने देखा कि वह काफी चोट खा चुकी है और उसके शरीर से खून बह रहा है इस पर समाजसेवी रमेश चंद यादव ने सरकारी डाक्टरों की टीम बुलाई जिसमें डॉ विनय विक्रम सिंह के द्वारा कोटवा धाम के डॉक्टरों की टीम आई करीब 2 घंटे ऑपरेशन के बाद उसका उपचार संभव हो पाया जिसमें डॉ अंबुज तिवारी के द्वारा काफी मशक्कत की गई वहीं पर गांव के राम सागर पुत्र लौटन ने गाय की देखभाल करने के लिए उसे ले लिया ।

लोगों में इस बात की भी चर्चा हुई कि गौ सेवा के नाम पर यह व्यक्ति सदैव आगे रहता है इस अवसर पर सुनील कुमार लाजपत के अतिरिक्त गांव के ग्रामीण उसकी देखभाल में लगे हुए थे ।